प्रदर-Leucorrhoea

प्रदर

प्रदर कुछ वर्षों के दौरान और मासिक धर्म प्रवाह के प्रारंभ होने के बाद हो सकता है । यह इस तरह के गंदगी के रूप में विभिंन कारकों की वजह से जननांग अंगों की जलन के कारण हो सकता है तंग परिधान,  आंतों के कीड़े और सेक्स या हस्तमैथुन के अत्यधिक मानसिक उत्तेजना इसका कारण हो सकते है  । कुछ अतिरिक्त स्राव  जब लड़की यौवन तक पहुंच जाती है उसके लिंग ग्रंथियों और अंगों में गतिविधि के कारण भी हो सकता है। यह आमतौर पर थोड़े समय के भीतर गायब हो जाता है । महिलाओं में एक प्रदर अंतर मासिक धर्म के दौरान हो सकता है प्रजनन अंगों में श्लेष्मा झिल्ली की और अधिक मोटा होना भी इसका कारण है । प्रदर एक सामान्य योनि का अत्यधिक स्त्राव या स्राव होता है वे स्वभाव से घिनौनी होती हैं । यहाँ केवल स्राव की मात्रा बढ़ जाती है और स्राव के अन्य सभी स्वरूप एक समान होते हैं यह आजकल महिलाओं में बहुत आम है, यानी ५० प्रतिशत से अधिक लड़कियां प्रदर से पीड़ित हैं और परेशानी और दर्द महसूस करती हैं.

प्रदर कारण निम्नानुसार हैं– 

 

  • खराब स्वास्थ्य
  • मैली हालत
  • स्वच्छता का अभाव
  • हार्मोनल असंतुलन
  • पाचन विकार
  • आहार में कम पोषक तत्व
  • जननांग पथ में संक्रमण
  • एनीमिया
  • कब्ज

 

कई लोगों का मानना है कि एक सबसे आम प्रदर लक्षणों का कारण बनता है पर्याप्त स्वच्छ उपायों की कमी है हालांकि यह सच नहीं है । जबकि यह सच है कि अपर्याप्त सफाई से प्रदर लक्षण और प्रभाव पैदा हो सकता है इन लक्षणों के लिए भी कई अन्य कारण हो सकते हैं जिनमे महिलाओं में आम कारणों में से कुछ शामिल संक्रमण, यौन संचारित रोगों, शरीर और गलत खाने की आदतों में विषाक्त पदार्थों के स्तर में वृद्धि ।

मैक्स नेचर हर्बल प्रदर के लिए हर्बल उपचार प्रदान करता है जो सुखी जीवन के लिए में लाभकारी साबित हो सकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.